भोजपुरी बीएफ भोजपुरी में

उंदीर चावल्यावर घरगुती उपाय

उंदीर चावल्यावर घरगुती उपाय, मुस्कान अब तक कोई पांच बार पानी छोड़ चुकी थी. इसी तरह एक घंटे तक हम सब ने उसकी चूत को खोल दिया था चोद चोद कर. अब वह बेड़ पर गिर गई और लेटी हुई थी. दो दोस्त उस को किस कर रहे थे, मैं और दो दोस्त सामने सोफे पर बैठे हुए थे. ललिता : हाँ साले कहा था ! और आज दो लंड भी हैं आज तो मैं दो लंडों से ही चुदवाउंगी ! राजेश तुम वहां बैठे हुए क्यों मुठ ।मार रहे हो ? मैं हूँ ना तुम दोनों की रंडी ! मैं चूसूंगी तेरे लंड को !

तो बोली- टीवी पर पूरा सीन नहीं आता लेकिन मेरी सहेलियों ने मुझे बताया था कि सुहागरात में क्या-क्या होता है.. मैंने मामी की ब्लाउज में हाथ डाल कर उसे चूमने लगा और दूध पीने लगा. मामी भी धीरे धीरे गर्म होने लगी थी.

मामी ने एक बार मेरी तरफ एक अजीब नजर से देखा, फिर वह मान गई. और मैंने मामी की साड़ी घुटनों से ऊपर कर दी. उंदीर चावल्यावर घरगुती उपाय अब एक एक करके सभी लोग अपने रूम में चले गए और सुनीता भी उठकर मुझे स्माइल करके चली गई, लेकिन मुझे बिल्कुल भी समझ नहीं आया. फिर मुझे जो रूम मिला था में उसी में सोने चला गया और मेरे घर वाले भी उसी रूम में थे.

एक्स एक्स एक्स बताएं

  1. पहले पूजा चुप कर गई लेकिन थोड़ी देर बाद उसने मुझे सब कुछ बताया और उसके बाद हमारी सेक्स के बारे में बातें शुरू हो गई।
  2. मैं: मैं भी तो ४५ का हूँ। अच्छा आप भी फ़ोटो दिखाइए ना अपने पति की और बच्चों की। फिर उसने भी मोबाइल पर अपने पति बेटे और बहु की फ़ोटो दिखायी। రెడ్ మూవీ తెలుగు
  3. मेरा एक बचपन का दोस्त है। हम दोनों एक साथ बड़े हुए और उसकी शादी हो गई। शादी के कुछ दिनों बाद वो हमेशा अपनी बीवी की चुदाई कैसे करता है, बताता रहता था। जिसे सुनकर मेरा मन भी चुदाई करने को करता था और मैं सोचता था कि वो कैसे भाभी को चोदता होगा और भाभी कैसे चुदवाती होगी। बेटे निखिल !! उम्र में मैं बड़ी हूँ, इसलिए तेरा लंड पहले खाने का हक मेरा है !! मेरी माँ बोली. हमदोनो में तू तू मैं मै होने लगी.
  4. उंदीर चावल्यावर घरगुती उपाय...नताशा जो कि एक आर्मी ऑफिसर की बेटी थी, सांवली लम्बी और बिलकुल तराशे हुए बदन की मालकिन, लेकिन उसके बूब्स और रोम रोम बिलकुल अलग से खिले हुए थे साथ ही उसकी बेबाक बातचीत किसी तो भी गरमाने के लिए काफी थी। फिर दोनों ने ख़ूब सारी बातें की। स्कूल , कॉलेज , दोस्तों और रिश्तेदारों के बारे में भी एक दूसरे से बहुत कुछ शेयर किया। इस बीच में दोनों एक दूसरे के बदन पर हाथ भी फेर रहे थे। शिवा के हाथ उसकी नरम कलाइयों और पीठ पर थे। मालिनी के हाथ शिवा की बाहों की मछलियों पर और उसकी छाती पर थे।
  5. उसने कहा मम्मी अभी बाहर गई है और पापा मेरे लिए कुछ सामान लेने गए हैं, आते ही होंगे। फ़िर मैंने पूछा- और कोई तुम्हारा दोस्त नहीं आया तो कहने लगी कि आते ही होंगे। धत्त!! पापा...क्या कोई पापा अपनी बेटी से ये पूछता है!! मैं कहा। मैं बहुत लजा गयी थी और शर्म कर रही थी।

പുതിയ മലയാളം സിനിമകൾ

उस रात भैया ने मुझे दो बार और दीदी को तीन बार चोदा और हम तीनो ही नंगे एक दूसरे की टाँग मे टाँग फसा कर सो गये,सुबह जब मेरी आँख खुली तो 10 बज चुके थे और भैया और दीदी अभी भी गहरी नींद मे थे मैने भैया को हिलाते हुए कहा भैया उठो तुम्हारा ऑफीस जाने का टाइम हो गया है.

राजीव: एक बात बताओ कि डिलीवरी के समय सिजेरीयन करना किसका सुझाव था? तुम्हारा , तुम्हारे पति का या श्याम का? अमन पूरी ताक़त के साथ अपनी गान्ड हिला हिला कर रीमा की चूत को अपने लंड से चोदे जा रहा था और कुछ ही धक्को के बाद दोनो एक साथ झड गये रीमा हान्फते हुए सीधी हुई

उंदीर चावल्यावर घरगुती उपाय,लेकिन मेरे लिंक्ड बाथरूम में ही रगड़ाई चल रही थी, मैंने उसको अपनी स्थिति बताई कि मैं नंगा नहीं हो पाउँगा। उसको वजह बताई तो वो बोला- साले गांडू ! मौका है उससे गांड मरवा ले ! पटा ले साले को ! तेरा दिल तो ज़रूर करता होगा ?

एक अन्दर की बात बताऊं....आप को शक है ना कि मैं कामुक कहानियाँ लिखती हूँ....हां अंकल मैं ही वो नेहा हूँ....

dosto ab mai poori tarahkuch bhi karne ko ajad thi agle din bhaiya se beer bhi mangwaya kyoki garmi bahut thi aur pee karke ek anjan admi se fir se chudai karwaya. kyoki bhaiya ke lund se mai santust nahi hoti thi isliye dusre lund ka intejam karna padta tha.সেক্সি পিকচার বিএফ

रानी: फिर भी उसके चूतर और चूची तो मस्त है ना? वैसी है जैसे आपको अच्छी लगती है । है नाआऽऽऽऽऽऽऽ आऽऽऽऽऽह बोओओओओओओलो ना। शिवा ने मालिनी को फ़ोन किया: देखो तुम्हारे साथ सुहाग रात कितनी महोंगी पड़ी अभी से । वो लड़की जो सुहागरत में दुल्हन की ऐक्टिंग करेगी मेरे दोस्त के साथ उसे एक स्मार्ट फ़ोन ख़रीद कर देना पड़ेगा।

फिर मैंने उसको बेड पर पटक दिया और बिना किसी बात को सोचे मैंने एक जोरदार धक्का देकर उसकी चूत में अपना पूरा लंड डाल दिया, जिसकी वजह से वो पूरी तरह से हिल गई और फिर में उसको ज़ोर ज़ोर से धक्के मारकर उसकी चुदाई करने लगा.

तो फिर तो तुम अभी कच्चे हो,,, ये कहते हुए उन्होंने मेरी पैंट उतार दी मैंने अंडरवेर नहीं पहना था और मेरा एक बार स्खलित भी हो गया था। गीली पैंट देख कर रीता बोली। रीता - बस इतने में ही झड़ गया। तो तुम क्या करोगे।,उंदीर चावल्यावर घरगुती उपाय मेरा नाम क्रिश है। और मैं दिल्ली का रहने वाला हूं। मेरी उमर १९ साल है।मैं पढ़ता हूं और मुझे लड़कियों को पटाने में बहुत मजा आता है। मैने लड़कियों को पटाना १५ साल की उमर से शुरु किया था और मुझे लड़कियों के साथ सेक्स करने में बहुत मजा आता है। ये मेरी पहली कहानी है।

News