अंतर्वासना सेक्स डॉट कॉम

गुरुपौर्णिमा लेख मराठी

गुरुपौर्णिमा लेख मराठी, में उसके सर को पकड़े हुए अपनी गान्ड को उछाल रही थी…वो किसी तरह मेरे ऊपेर काबू पाए हुए था………फिर कुछ देर बाद मुझे ऐसा लगा जैसे सच में मेरे जान मेरी फुद्दि से ही निकल जाएगी…….अहह अमित्त ले गाईए मेन्णन्न् कंजरी बना देताअ मेनू…..आहह मेरीए इज़्ज़त लूट लेती तू कंज़ारा ह ओह मेरीए फुदीई….. तो वो मुस्कुराई और बोली-पापा की तुम चिंता मत करो ! जैसे वो दीदी और मम्मी को नही रोक सके मुझे भी नही रोक सकते।

तभी अचानक से मेरी मामी पीछे हटी और मम्मी से बोली कि रंडी साली कुतिया तू अभी तक वही पड़ी है.. चल उठ साली हरामजादी। तो मम्मी जल्दी से कांपती हुई उठकर खड़ी हो गई। नफ़ीसा बोली, अरे सुन लेगा तो क्या होगा... उसके पास भी तो लंड है... और सारी दुनिया करती है ये काम हम क्यों किसी से डरें..!

कमलावती- क्या? क्या कहा आपने? आपके दोस्त कामरू? कुछ गलत बोल रहे हो सैंया जी... नींद में हो ना... इसीलिए। गुरुपौर्णिमा लेख मराठी झरना- फिर क्या भाभीजी... हम ने तो कह ही दिया की देख लो, सोच लो, आकर हमरी फुद्दी संभाल लो। अब कल सुबह हम भी मन भरकरके चुदवाएंगे, अपने पति के लण्ड से।

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो जबरदस्ती

  1. कालिया- अरे काकाजी... आप भी आ गये बीच में अपना लण्ड घुसेड़ने। उधर काकी की फुद्दी की गर्मी को तो मुझे शांत करनी पड़ती है। गोरी मेमसाहेब चोदने लण्ड पहले ही खड़ा कर दिये, धोती के अंदर। मेरी बात ध्यान से सुनिए सब लोग।
  2. मे:मे आपको चुदाई के दोरान आपको आपके नाम से पुकारना चाहता हूँ,क्योकि दो प्रेमी एक दूसरे को नाम से ही पुकारते है बीएफ सेक्सी वीडियो भोजपुरी एचडी
  3. में गुस्से से उसकी तरफ बढ़ी, और उसको उसके बलों से पकड़ कर खेंचते हुए 4-5 झापड़ उसके मूह पर दे मारे……पर इस अचानक हमले से वो लड़खड़ा कर पीछे गिर गया…..पर गुस्सा अभी भी शांत नही हुआ था….में फिर उसकी तरफ लपकी…..पर उसने मुझे पीछे धक्का दे दिया….. सलोनी उसी तरह लेटे हुए कोहनी के बल अपना सर उठाए राहुल को घूर रही थी जो अपने माथे पर अपनी बांह रखे छत को घूर रहा था | उसका लंड अब पूरी तरह से नर्म पड़ चूका था |
  4. गुरुपौर्णिमा लेख मराठी...मेरे पास इसका कोई जवाब नहीं था और मेरा लण्ड अब अपनी पूरी औकात पर आ गया था। यानी कि 7 इंच लम्बा हो गया था। मैं- नहीं, पर... साथ में चूचियों को भी दबाना चाहिए। एक को मुँह में चूसना भी चाहिए। दूजे को दबाना चाहिए। पांच मिनट में चूची को बदलना चाहिए। याने जिसे चूस रहे उसे दबाओ और जिसे दबा रहे हो उसे चूसो। तभी जोरू को पूरा मजा आई... समझे मुन्ने के बाबूजी।
  5. मैं : बापू बहुत दर्द हो रहा है बापू ने मेरी तरफ देखा तो उनकी आँखे पहले वहीं गयी जहाँ मैं चाहती थी.मेरे उभारों को देखते हुए बोले अब आपको कैसे यकीन दिलाए हम बहनजी ....... अब जब आपसे सब बातें खुल ही चुकी हैं तो आपको सच्चाई बता ही देते हैं..... देखिए किसी से कहिएगा नही सलोनी हाँ में सर हिलाती है | दुकानवाला आस पास देखकर बहुत धीमे से बोलता है हमर बिटिया भी यही कहती है

सेक्सी फिल्म नया वाला

मनोज अपने हाथ को पीछे की तरफ मोड़कर अपनी कमर को मलते हुये बोला- यार, कितनी बार कहा है तुझसे कि हाथ का मजाक मत किया कर...

राहुल सलोनी के पास जाकर खड़ा हो जाता है | वो अपनी माँ के पीछे खड़ा उसकी गांड को देख रहा था | सलोनी को राहुल की मौजूदगी का पूरा एहसास था | राहुल की नज़र माँ की उभरी हुई गांड पर जमी हुई थी और उसका हाथ स्वयं ही उठता हुआ सलोनी की गांड की तरफ बढ़ता है जैसे उसका अपने हाथ पर कोई कण्ट्रोल ना हो | मैं- अच्छा... तब तुझे शर्म नहीं आई जब खिड़की से हमारी चुदाई फ्री में देख रही थी? तब नहीं आई जब जग खाली करने गई थी? और अभी तो बोल रही थी कि मेरे लण्ड से बहुत ज्यादा मजा आएगा। अभी शर्म आ रही

गुरुपौर्णिमा लेख मराठी,वहा बीचो बीच एक बिस्तर था गोल। और एक सैफ जिसमे शराब थी महंगी से महंगी। तरह तरह के सेक्स टॉय देशी और विदेशी। एक बड़ी स्क्रीन होम थिएटर के साथ।

इधर मामी फिर से दोनों टांगें ऊपर कर तैयार थीं, मैंने प्रियंका की चूत से गीला लंड खींचा और मामी की चुत में पेल दिया और जोर जोर से चोदने लगा.

ओह्ह्ह्हह.... बेटा तुम हो, मुझे मालूम ही नहीं चला, इधर अपने कपडे डाल दो, मैं धो देती हूँ सलोनी अनजान बनते हुए बोलती है जैसे राहुल के आने का पता ही ना चला हो | वो उठकर खड़ी हो जाती है |गांव की सेक्सी वीडियो बीपी

मैं- तो फिर देर किस बात की देवरजी? मन की बात पूरी कर लो। वरना जब हमारी देवरानी आएगी तो हमें कहेगी- क्या जेठानी जी आपने अपने देवर को चूची दबाना और चूसना भी ठीक से नहीं सिखाया। अच्छा! वैसे तुम्हे मुझ में क्या खूबसूरत लगता है...? नफ़ीसा ने पूछा तो सुनील बोला, जी सब कुछ...! नफ़ीसा मुस्कुराते हुए बोली, फिर तो सब कुछ देखना भी चाहते होगे...!

मम्मी आपकी नाक की बाली आप पर बहुत जंचती है, इससे आपका चेहरा और भी प्यारा लगता है, आप सच में बहुत सुंदर हो मम्मी... आपका मंगलसूत्र ... राहुल झिझक उठता है |

इतना कह कर उन्होंने मेरा हाथ अपनी टांगों पर रख दिया। कसम से जैसे ही उन्होंने यह किया, मुझको कर्रेंट सा लगा। कितनी चिकनी टांगें थी उनकी ! बिल्कुल मखमल की तरह ! प्रियंका और उसमें जमीन-आसमान का फर्क था। मैंने सोच रहा था कि कहाँ मैंने इतने दिन खराब कर दिए। उसी दिन चोद देना था इसको।,गुरुपौर्णिमा लेख मराठी मम्मी नीचे लेटी हुई अपने सिर को घुमा के मेरे लंड को देख कर आज तो तुम्हारा लंड बहुत बड़ा लग रहा है,कहीं मेरी गान्ड फाड़ ना दे,

News